नेशनल

दलित शब्द का इस्तेमाल न करने के आदेश को SC में चुनौती देंगे रामदास अठावले

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1931
| सितंबर 6 , 2018 , 09:40 IST

केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले ने कहा है कि वह बॉम्बे हाई कोर्ट के 'दलित' शब्द इस्तेमाल न करने के निर्देश के खिलाफ वह सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर पीठ ने पंकज मेश्राम की याचिका पर कहा था कि केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय मीडिया को 'दलित' शब्द का इस्तेमाल बंद करने के लिए निर्देश जारी करने पर विचार करे। याचिका में सरकारी दस्तावेजों और पत्रों से भी दलित शब्द को हटाने की मांग की गई थी।

अठावले बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर पीठ के निर्देष के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं। अठावले का कहना है कि यह शब्द अपमानजनक नहीं है। आपको बता दें कि इस संबंध में मध्य प्रदेश हाई कोर्ट भी कह चुका है कि केंद्र और राज्य सरकारों को पत्राचार में दलित शब्द के इस्तेमाल से बचना चाहिए क्योंकि यह शब्द संविधान में नहीं है।

ये भी पढ़ें: मीडिया को सरकार की सलाह: अब 'दलित'नहीं 'अनुसूचित जाति' शब्द का करें इस्तेमाल

अठावले ने कहा कि हमने दलित संगठन बनाया था। समाज में जो भी इकोनॉमिक सोशली बैकवर्ड लोग हैं उनको दलित बोलना चाहिए, इसलिए मुझे लगता है कि सरकारी रिकॉर्ड में तो दलित शब्द का इस्तेमाल न करें, लेकिन बात करने, लिखने में दलित शब्द के इस्तेमाल में कोई दिक्कत नहीं है।

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने मीडिया के लिए एक अडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि उन्हें दलित शब्द के इस्तेमाल से बचना चाहिए और इसकी जगह पर 'शेड्यूल्ड कॉस्ट' का प्रयोग करना चाहिए।


कमेंट करें