नेशनल

नहीं रहे मशहूर शायर अनवर जलालपुरी, गीता का किया था उर्दू में अनुवाद

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1581
| जनवरी 2 , 2018 , 15:20 IST

उर्दू शायर अनवर जलालपुरी का कार्डियक अरेस्ट (दिल का दौरा) पड़ने के कारण मंगलवार सुबह करीब 10 बजे केजीएमयू (किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी) में निधन हो गया। उन्हें गुरुवार को ब्रेन स्ट्रोक पड़ने के बाद एक केजीएमयू के ट्रामा सेंटर के न्यूरो सर्जरी डिपार्टमेंट में एडमिट कराया गया था। उनकी हालत पहले दिन से ही नाजुक बनी हुई थी। यहां उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था।

गुरुवार को आया था अटैक

हुसैनगंज निवासी उर्दू शायर अनवर जलालपुरी (71) गुरुवार शाम अपने करीबी परिजन के शोक कार्यक्रम से लौटे थे। छोटे बेटे डॉ जानिसार जलालपुरी के मुताबिक़, शाम करीब 6 बजे बाथरूम गये। लेकिन आधे-पौने घंटे तक बाहर नहीं निकले तो उन्हें आवाज लगाई।

Jalal1

(फोटो साभार: Rekhta)

आवाज नहीं आने पर दरवाजा तोड़कर बाहर देखा तो वह फर्श पर पड़े हुये थे और उनके सिर से खून बह रहा था। आनन-फानन में उन्हें प्राइवेट हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उनके दिमाग में अंदरूनी चोटों के चलते सीटी स्कैन आदि के लिये दूसरे निजी अस्पताल ले जाया गया।

जहां डाक्टरों ने ब्रेन में खून के थक्के, और ब्लीडिंग होने के बाद केजीएमयू रेफर कर दिया। केजीएमयू के ट्रामा सेंटर के न्यूरो सर्जरी विभाग में उन्हें एडमिट कराया गया था। उनकी तबियत में सुधार नहीं हो रहा था। केजीएमयू के सीएमएस डॉ. एसएन शंखवार लगातार उनके इलाज पर नजर बनाये गये थे। उन्होंने डाक्टरों को हर संभव इलाज करने का निर्देश दिया था।

डिप्टी सीएम ऑफिस से ली गई पल-पल की जानकारी

केजीएमयू के डाक्टरों ने बताया- "अनवर जलालपुरी की हालात पहले दिन से ही नाजुक बनी हुई थी। न्यूरोसर्जरी के डॉक्टर उनका इलाज पर नजर बनाये हुए थे। उन्हें इस वेंटीलेटर पर रखा गया था। डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के ऑफिस से गुरूवार से ही फोन पर अनवर जलालपुरी के तबियत की पल पल की अपडेट ली जा रही थी।"

कौन हैं अनवर जलालपुरी

लखनऊ के हुसैनगंज निवासी मशहूर उर्दू शायर अनवर जलालपुरी ने गीता का उर्दू शायरी में अनुवाद किया है। उन्हें प्रदेश सरकार यश भारती सम्मान से भी सम्मानित कर चुकी है। कई राजनीतिक हस्तियों से उनके काफी नजदीकी रही हैं।

केजीएमयू का पक्ष

केजीएमयू के सीएमएस डॉ. एसएन शंखवार के मुताबिक, अनवर जलालपुरी को कार्डियक अरेस्ट होने के कारण मंगलवार सुबह 10 बजे के करीब निधन हो गया। उन्हें ब्रेन स्ट्रोक होने के बाद इलाज के लिए केजीएमयू में एडमिट कराया गया था। उन्हें बचाने के लिए हर संभव कोशिश की गई लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।

 


कमेंट करें