नेशनल

PM मोदी के न्योते के बावजूद भारत नहीं आएंगे ट्रंप, 5 एशियाई देशों की करेंगे यात्रा

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
851
| सितंबर 30 , 2017 , 11:40 IST

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पहली एशिया यात्रा में भारत का नाम शामिल नहीं है। ट्रंप की यह यात्रा इसी साल नवंबर से शुरू होगी। ट्रंप 3 से 14 नवंबर तक की अपनी एशिया यात्रा के दौरान चीन, जापान, साउथ कारिया, वियतनाम और फिलीपींस जाएंगे।

हालांकि, व्हाइट हाउस द्वारा जारी किय गए बयान में कहा गया है कि कार्यक्रमों में पेफेफिक रीजन समेत भारत के साथ अमेरिका की समृद्धि और सुरक्षा पर चर्चा की जाएगी।

बता दें कि, डोनाल्ड ट्रंप अपनी एशिया यात्रा के दौरान भारत नहीं आएंगे। जबकि इस साल की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति को परिवार के साथ भारत आने का न्योता दिया था, जिसे उन्होंने सहर्ष स्वीकार भी किया था। इस साल जून में व्हाइट हाउस के रोज़ गार्डेन में पीएम मोदी ने ट्रंप से कहा था, 'मुझे आशा है कि आप मुझे भारत में आपके स्वागत और आवभगत का अवसर देंगे।'

Trump_modi

ईस्ट एशिया में ट्रंप की यह पहली यात्रा है। इसमें वियतनाम में होने वाले Asia-Pacific Economic Cooperation (APEC) और फिलीपींस का Association of Southeast Asian Nations (ASEAN) समिट शामिल हैं।

व्हाइट हाउस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एफे न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाइट हाउस ने इससे पहले ट्रंप के चीन, दक्षिण कोरिया, और जापान जाने की योजना की पुष्टि की थी। व्हाइट हाउस ने कहा कि ट्रंप एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (एपीइसी) सम्मेलन में भाग लेने के लिए वियतनाम और दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के संगठन (आसियान) के सम्मेलन में भाग लेने के लिए फिलीपींस भी जाएंगे।

व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी कर कहा, " ट्रंप के एशिया दौरे का एक प्रमुख उद्देश्य उत्तर कोरिया से बढ़ते खतरे से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धता को मजबूत करना और कोरियाई महाद्वीप को पूर्ण रूप से परमाणु मुक्त बनाना है।"

ट्रंप ने उत्तर कोरिया की ओर से बढ़ते परमाणु खतरे के बीच मंगलवार को कहा था कि अगर जरूरत पड़ी तो अमेरिका उत्तर कोरिया के खिलाफ 'विध्वंसक' सैन्य कार्रवाई के लिए तैयार है।

व्हाइट हाउस के अनुसार, "ट्रंप का एशिया दौरा इस क्षेत्र में अमेरिका की गठबंधन और दोस्ती की प्रतिबद्धता और अमेरिका के व्यापरिक साझेदारों के बीच निष्पक्ष और पारस्परिक आर्थिक संबंध की महत्ता दर्शाता है।"

ट्रंप के चीन के दौरे की तैयारियों के मद्देनजर अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन रविवार तक चीन में रहेंगे।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें