नेशनल

6 महीने के लिए बंद हुए केदारधाम के कपाट, आखिरी दर्शन को उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1380
| नवंबर 9 , 2018 , 11:58 IST

द्वादश ज्योर्तिलिंगों में शामिल भगवान केदारनाथ के कपाट भैयादूज पर्व केदारनाथ मंदिर में सुबह 5:30 बजे पूजा-अर्चना शुरू की गई, जिसके बाद वैदिक मंत्रोच्चार और पौराणिक विधि विधान के बाद 8:15 पर मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। इसके साथ ही आज ही यमुनोत्री मंदिर के कपाट भी बंद होंगे। वहीं, बदरीनाथ धाम के कपाट 20 नवंबर को बंद होने हैं।

DrOtDlkXgAA6h-2

मंदिर के कपाट बंद होने के बाद केदारनाथ की पंचमुखी डोली अपने शीतकालीन प्रवास ओम्कारेश्वर मंदिर ऊखीमठ के लिए रवाना हो गई है। शीतकाल के छह माह में भोले बाबा की पूजा अर्चना ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में संपन्न होगी। वहीं, मां यमुना के दर्शन उनके मायके और शीतकालीन प्रवास ऊखीमठ (खरसाली) में कर सकेंगे।

 

DrOtDllWsAA5IHi

कपाटबंदी के मौके पर बदरी-केदार मंदिर समिति ने केदारनाथ मंदिर को चारों ओर से 10 कुन्तल फूलों से सजाया गया था। वहीं श्रद्धालुओं की भीड़ की ओर से लगाए गए बाबा के जयकारों से पूरी केदारपुरी गूंजती रही। इस दौरान केदारधाम में 1785 श्रद्धालु मौजूद थे।


कमेंट करें