नेशनल

बनारस के घाटों का दर्शन कराएगी लक्जरी क्रूज 'अलकनंदा', योगी ने किया लोकार्पण

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2052
| सितंबर 2 , 2018 , 12:05 IST

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी वाराणसी के दौरे पर हैं। वाराणसी घाटों के भ्रमण के लिए तैयार किया गया बहुप्रतीक्षित लक्जरी क्रूज का खिड़किया घाट से गंगा घाट पर लोकार्पण किया। कोलकता में तैयार हुए इस क्रूज का संचालन एक निजी कंपनी को सौपा गया है। अस्सी से राजघाट तक दौड़ने वाले इस क्रूज के जरिये पर्यटकों को काशी में गंगा के बीच एक नया अनुभव मिलेगा। 2000 वर्ग फीट के इस अत्याधुनिक क्रूज में उन व्यवस्थाओं का ध्यान रखा गया है जो किसी बड़े होटल में होता है।

बता दें कि इस क्रूज से पर्यटक काशी का दर्शन कर सकेंगे। इससे पहले शनिवार की शाम में उन्होंने विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की और उसके बाद रात में वाराणसी के गोइठा स्थित बंद पड़े एसटीपी के काम को देखने गए। योगी आदित्यनाथ ने रात में वाराणसी के एक दो और इलाकों और सड़कों का भी जायजा लिया।

दो मंजिला इस क्रूज में नीचे का डेक पूरी तरह से वातानुकूलित है। इसमें सेमीनार और पार्टी आर्गनाइज की जा सकेगी। यह एक बड़े हॉल नुमा है जिसमें इवेंट के मुताबिक़ बैठने की भी व्यवस्था की जा सकती है। इसकी दीवार पर ऑडियो-विजुअल सिस्टम चलाने की भी व्यवस्था रहेगी। इसका इस्तेमाल कॉर्पोरेट इवेंट्स के लिए किया जा सकेगा।

इसके अलावा इसमें बायो-टॉयलेट की सुविधा है ताकि किसी भी तरह से कोई गंदगी गंगा के पानी में न मिलने पाए। इस हॉल के साथ ही पैंट्री की भी व्यवस्था रहेगी ताकि टूरिस्ट्स को ब्रेकफास्ट, स्नैक्स और लंच परोसा जा सके।

क्रूज के पैकेज को तीन अलग-अलग हिस्सों में बांटा गया है पहला सुबह सूर्योदय कि वक्त होगा, दूसरा शाम को सूर्यास्त के वक्त गंगा आरती कराते हुए खत्म किया जाएगा। तो वहीं दोपहर के वक्त इस क्रूज़ का इस्तेमाल कॉरपोरेट मीटिंग, पार्टी के लिए बुक कराया जा सकेगा।

इसे भी पढ़ें-: लोकसभा 2019: JNU के बाद अब राष्ट्रीय राजनीति में हाथ आजमाएंगे कन्हैया कुमार !

क्रूज की ऑनलाइन बुकिंग के लिए प्रति व्यक्ति जीएसटी समेत 750 रुपये की रकम चुकानी होगी। इसमें नीचे के डेक में 60 लोग और ऊपर के डेक पर 30 लोगों के बैठने की व्यवस्था है। इस दौरान सैलानियों को घाटों के दर्शन के अलावा जगह-जगह होने वाली विश्व-प्रसिद्ध गंगा आरती भी देखने को मिलेगी।


कमेंट करें