नेशनल

स्कूल के पाठ्यक्रम पर भड़के सहवाग, शिक्षा विभाग को होम वर्क करने की दी सलाह

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2514
| अगस्त 5 , 2018 , 18:04 IST

टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज अपनी बल्लेबाजी से दूर होने के बाद सहवाग अपना वही आक्रामक रवैया ट्वीटर पर भी जाहिर करते रहते हैं। सोशल मीडिया पर अपने व्यंग्य के साथ-साथ वेबाकी से समाजिक मुद्दो पर भी अपनी राय रखते रहते हैं। उसी प्रकार आज भी वीरू ने कुछ ऐसा ही किया। सहवाग का ताजा ट्वीट प्राइमरी स्कूली बच्चों की किताबों पर है। इसमें वीरू ने इंग्लिश की टैक्स्ट बुक में शामिर कंटेंट पर सवाल उठाए हैं।

सहवाग ने अपने ट्वीट में प्राइमरी स्कूल की अंग्रेजी की किताब में बड़े परिवार पर लिखी गई बातों पर आपत्ति जताई है। इस पुस्तक में छात्रों को यह पढ़ाया जा रहा है कि एक बड़ा परिवार कभी सुखी जीवन नहीं बिताता। इस पुस्तक में बड़े परिवार पर दो वाक्य लिखे गए हैं। पुस्तक के मुताबिक बड़े परिवार की परिभाषा है- 'बड़े परिवार में माता-पिता के अलावा दादा-दादी के अलावा कई बच्चे होते हैं। एक बड़ा परिवार कभी भी सुखी जीवन नहीं जीता।'

इसे भी पढ़ें-: इंग्लैंड की जीत पर उत्साहित हुए दर्शकों ने कहा, 'वेयर इज कोहली गोन, वी हेव जेम्स एंडरसन'

अपने ट्वीट में सहवाग ने इन बातों को हाइलाइट करते हुए इन पर आपत्ति जताई है। उन्होंने लिखा, 'स्कूल की टैक्स्ट बुक में इस प्रकार बहुत सारी बकवास शामिल है। मतलब साफ है कि टैक्स्ट बुक में कॉन्टेंट के लिए जिम्मेदार अथॉरिटी कॉन्टेंट का निरीक्षण ठीक से नहीं कर रही है।' यानी इन कॉन्टेंट के लिए जिम्मेदार अथॉरिटी अपना होमवर्क ठीक से नहीं कर पा रही। सहवाग के इस ट्वीट पर हजारों लोगों ने अपनी सहमति जताई है और ऐसे कॉन्टेंट के लिए संबंधित विभाग के प्रति नाराजगी जाहिर की है।


कमेंट करें