विज्ञान/टेक्नोलॉजी

WhatsApp के को-फाउंडर ने क्यों कहा, डिलीट कर दें फेसबुक!

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1208
| मार्च 21 , 2018 , 21:17 IST

व्हाट्सएप के को-फाउंडर ब्रायन एक्टन ऐक्टन ने एक ट्वीट किया है जो ट्रेंड कर रहा है। उन्होंने अपने कथित ट्वीट में कहा है कि - it is time. #deletefacebook के जरिए 220 करोड़ एक्टिव यूजर्स वाले फेसबुक को डिलीट करने की सलाह दी है।

जाहिर है व्हाट्सऐप को काफी पहले ही फेसबुक ने अधिग्रहण कर लिया था और अब व्हाट्सऐप फेसबुक का ही हिस्सा है। ऐसे में अगर व्हाट्सऐप के सह संस्थापक फेसबुक डिलीट करने की बात कहेंगे तो लोग फेसबुक पर सवाल उठाएंगे।

बता दें कि ब्रायन का यह अकाउंट ट्विटर के नीली चिड़िया वाले साइन से वैरिफाइड नहीं है, लेकिन उनकी फोटो लगी है और गूगल सर्च में भी उनका एक ही अकाउंट आ रहा है।

ब्रायन एक्टन का यह ट्वीट ऐसे समय में आया है जब हाल ही में हाल ही में आई एक रिपोर्ट में पॉलीटिकल डेटा ऐनालिटिक्स फर्म कैंब्रिज ऐनालिटिका द्वारा 2016 में अमेरिकी प्रेसिडेंट इलेक्शन में 50 मिलियन यूजर्स का डाटा हैक करके उसके गलत इस्तेमाल का खुलासा हुआ है।

इस खुलासे के बाद फेसबुक के शेयर में भी काफी गिरावट देखी गई। एक दिन में फेसबुक के 6.06 बिलियन डॉलर स्वाहा हो गए हैं।

Vcc

सोमवार को सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक का शेयर 7 फीसदी तक लुढ़क गया। इसकी वजह वो रिपोर्ट है जिसमें कहा गया है कि डोनाल्ड ट्रंप की कैंपेन कंस्लटेंट फर्म कैंब्रिज ऐनालिटिका ने अमेरिकी प्रेसिडेंट इलेक्शन को प्रभावित करने के लिए फेसबुक के 50 मिलियन यूजर्स के डेटा के साथ छेड़छाड़ की है।

द गार्डियन की रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को अमेरिकी सेनेटर रॉन विडेन ने मार्क जकरबर्ग को एक लिस्ट दी है जिसमें फेसबुक डेटा ब्रीच से जुड़े कई सवाल हैं जिनके जवाब 13 अप्रैल तक मांगे गए हैं।

फेसबुक ने इस मामले की जांच के लिए डिजिटल फॉरेंसिक फर्म स्ट्रोज फ्रीडबर्ग को रखा है जो कैंब्रिज ऐनालिटिका का ऑडिट करेगी। इसके लिए कैंब्रिज ऐनालिटिका ने हामी भरी की है वो इस जांच में पूरी तरह सहयोग करेगी और वो डेटा की जांच के लिए अपने सर्वर का ऐक्सेस देगी।

इसे भी पढ़ें-: फेसबुक के मालिक मार्क ज़ुकरबर्ग को सबसे बड़ा झटका, 1 दिन में गंवा दिए 4 खरब रुपये

2014 में फेसबुक द्वारा वाट्सऐप को टेकओवर करने के बाद ब्रायन एक्टन ने कुछ दिन वाट्सऐप के लिए काम करने के बाद रिजाइन कर दिया। जॉन कोउम अब भी फेसबुक बोर्ड में शामिल हैं। फरवरी 2018 में ब्रायन ने सिग्नल फाउंडेशन की स्थापना की और इसी के लिए काम कर रहे हैं।


कमेंट करें