नेशनल

श्रीनगर के लाल चौक पर हम तिरंगा क्यों नही फहरा सकते ?

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2599
| अगस्त 14 , 2018 , 19:50 IST

किसी भी तरह की अफरा-तफरी से बचने के लिए एक व्यक्ति को श्रीनगर में लाल चौक पर मंगलवार को झंडा नहीं फहराने दिया गया। लाल चौक क्षेत्र के घंटा घर में तिरंगा फहराने की कोशिश करने वाले व्यक्ति की पहचान फिलहाल पता नहीं चल पाई है।

पिछले वर्ष, इसी तरह के कार्य के लिए एक दर्जन शिवसैनिकों को गिरफ्तार किया गया था।
स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा झंडा फहराने की कोशिश कर रहे कुछ लोगों की स्थानीय लोगों के साथ मारपीट हो गई। स्थानीय लोगों ने तिरंगा फहराने का विरोध किया था। इस दौरान दोनों पक्षों में कहासुनी और हल्की झड़प हो गई। बाद में पुलिस नें इस मामले में आकर झंडा फहरा रहे लोगों को गिरफतार कर लिया।

श्रीनगर में स्थित लाल चौक को व्यवासायिक हब माना जाता है। कुछ लोग क्लॉक टावर पर तिरंगा फहराने की कोशिश कर रहे थे। बताया जा रहा है कि जब लोग लाल चौक पर क्लॉक टावर पर तिरंगा फहरा रहे थे, तब स्थानीय लोग इसका विरोध करने लगे। तिरंगा फहराने की कोशिश से इलाके में अफरातफरी मच गई। फिर पुलिस ने इस मामले को संभालने के लिए उन लोगों को गिरफतार कर लिया, जिन लोगों को अरेस्ट किया गया है, वे स्थानीय नहीं हैं।

इस घटना को देखते हुए पूरे इलाके में सुरक्षा व्यवस्था को और कड़ा कर दिया गया है। बता दें कि पहले के वर्षों में भी गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर लोग लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश कर चुके हैं लेकिन सब असफल हुए।

पिछले साल शिवसेना की जम्मू कश्मीर शाखा ने अपनी एक टीम श्रीनगर भेजी थी ताकि लाल चौक पर तिरंगा फहराया जा सके।

Middle n post

इसके बाद जम्मू कशमीर के पूर्व मुख्यजमंत्री फारुक अब्दुल्ला ने चुनौती दी थी कि केंद्र सरकार लाल चौक पर तिरंगा फहरा कर दिखाए।

अब्दुल्ला ने कहा था,

'वे पाक अधिकृत कश्मीर में तिरंगा फहराने की बात करते हैं लेकिन मैं उनसे कहता हूं कि वे श्रीनगर जाएं और लाल चौक पर तिरंगा फहराएं। वे ये तो कर नहीं सकते हैं और पाक अधिकृत कश्मीर की बात करते हैं।'


कमेंट करें