नेशनल

हैदराबाद में इंसानियत हुई तार-तार, रात भर बेटे के शव के साथ बारिश में भीगती रही मां

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
433
| सितंबर 15 , 2017 , 16:19 IST

हैदराबाद में एक महिला अपने दस साल के बेटे की लाश के साथ रात भर घर के बाहर भीगती रही। महिला को बेटे के शव के साथ पूरी रात बारिश में सड़क पर गुजारनी पड़ी, क्योंकि उनके मकान मालिक ने शव को घर के अंदर लाने से मना कर दिया था। यह घटना महानगर के कुकाटपल्ली क्षेत्र के वेंकटेश्वर नगर की है। महबूब नगर जिले की ईश्वरम्मा पिछले चार साल से इसी घर में किराए पर रह रही थीं। उसके दो बेटे थे। उसके 10 वर्ष के बड़े बेटे सुरेश को डेंगू हुआ था।

जिसके चलते उसने अपने बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां उसके बेटे ने दम तोड़ दिया। जिसके बाद देर रात वह अपने बेटे के शव को घर ले आईं, लेकिन मकान मालिक जगदीश गुप्ता ने उसे और उसके बेटे के शव को घर के अंदर आने से मना कर दिया। अंधविश्वास के चलते मकान मालिक का कहना था कि हाल ही में उसकी बेटी की शादी हुई है अगर शव घर के अंदर आया तो अपशगुन हो सकता है।

ईश्वरम्मा को पूरी रात अपने बेटे के साथ मकान के बाहर सड़क पर बितानी पड़ी। पड़ोसियों को इन पर दया आयी तो पड़ोसियों ने तीनों के ऊपर तिरपाल टांगे और शव रखने के लिए एक बॉक्स लाए।  मकान मालिक के इस कृत्य की निंदा करते हुए उन्होंने शव के अंतिम संस्कार के लिए आपसी सहयोग से धन भी जुटाया।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें