नेशनल

Women's Day पर Google का स्पेशल डूडल, जानें क्यों मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2170
| मार्च 8 , 2019 , 10:33 IST

आज (8 मार्च) अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर गूगल ने डूडल बनाकर महिलाओं को सम्मान दिया है। दुनिया भर में महिलाओं के सम्मान में तरह-तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में गूगल ने भी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस गूगल डूडल बनाया है।

1

इस डूडल में एक स्लाइड शो के माध्यम से अलग-अलग भाषाओं में महिलाओं से जुड़े प्रेरणादायक कोट्स लिखे गए हैं। इसमें एक हिंदी का कोट्स भी शामिल है। जिसमें लिखा है कि हम इतने अनमोल हैं कि निराशा कभी हमारे दिलों-दिमाग में भी नहीं आनी चाहिए।

2

डूडल स्‍लाइड को क्लिक करते ही आपको दुनिया की अलग-अलग भाषाओं में कोट्स दिखने लगेंगे। साथ ही उन महिलाओं के नाम भी आप पढ़ सकेंगे, जिन्‍होंने ये कोट्स दिए हैं। इनमें भारतीय मुक्‍केबाज मैरी कॉम का भी नाम शामिल है। मैरी कॉम ने लिखा है, 'यह मत कहिए कि आप कमजोर हैं क्‍योंकि आप एक महिला हैं।'

Ma

इस डूडल स्‍लाइड को सोशल मीडिया पर शेयर करने का भी ऑप्‍शन दिया गया है। इन प्रेरणादायक कोट्स को दुनियाभर की प्रतिभाशाली महिलाओं के एक समूह द्वारा डिजाइन किया गया है।

AIR INDIA की 12 उड़ानों की कमान महिलाओं के हाथ-:

भारत में भी महिला दिवस इस बार खास अंदाज में मनाया जा रहा है। एयर इंडिया अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर पूर्ण रूप से महिला चालक दल वाली 12 अंतरराष्ट्रीय और 40 से ज्यादा घरेलू उड़ानों का परिचालन करने जा रही है।

एयरलाइन ने बताया कि शुक्रवार को उसकी मध्यम और लंबी दूरी की 12 अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में चालक दल में केवल महिलाएं होंगी। इसके घरेलू मार्गों पर 40 से ज्यादा उड़ानों के फेरे का परिचालन पूरी तरह महिला दल के हाथ में होगा। एयर इंडिया इन 12 अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए बी787 ड्रीमलाइनर और बी777 विमानों को लगा रही है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की कैसे हुई शुरुआत:

1908 में 15000 महिलाओं ने न्यूयॉर्क सिटी में वोटिंग अधिकारों की मांग के लिए, काम के घंटे कम करने के लिए और बेहतर वेतन मिलने के लिए मार्च निकाला। एक साल बाद अमेरिका की सोशलिस्ट पार्टी की घोषणा के अनुसार 1909 में यूनाइटेड स्टेट्स में पहला राष्ट्रीय महिला दिवस 28 फरवरी को मनाया गया।

1910 में clara zetkin (जर्मनी की सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी की महिला ऑफिस की लीडर) नामक महिला ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने का विचार रखा, उन्होंने सुझाव दिया की महिलाओं को अपनी मांगो को आगे बढ़ने के लिए हर देश में अंतराष्ट्रीय महिला दिवस मनाना चाहिए।

3

एक कांफ्रेंस में 17 देशो की 100 से ज्यादा महिलाओं ने इस सुझाव पर सहमती जताई और अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की स्थापना हुई, इस समय इसका प्रमुख उद्देश्य महिलाओं को वोट का अधिकार दिलवाना था। 19 मार्च 1911 को पहली बार आस्ट्रिया डेनमार्क, जर्मनी और स्विट्ज़रलैंड में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। 1913 में इसे ट्रांसफर कर 8 मार्च कर दिया गया और तब से इसे हर साल इसी दिन मनाया जाता है।


कमेंट करें