लाइफस्टाइल

रोज 15 सिगरेट पीने से भी ज्यादा खतरनाक है अकेलापन, ब्रिटेन ने बनाई Loneliness मिनिस्ट्री

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2171
| जुलाई 7 , 2018 , 14:16 IST

ब्रिटेन में अकेलेपन की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए ब्रिटिश सरकार ने लोनलीनेस मिनिस्ट्री बनाई गई है। दुनिया में पहली बार इस तरह की मिनीस्ट्री किसी देश ने बनाई है। हालांकि, विश्वभर में चर्चा का विषय रहे इस मंत्रालय के गठन के पीछे अलग ही कारण रहा है।

2017 में कोक्ष कमिशन ऑन लोनलिनेस की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार,

"ब्रिटेन में यह पाया गया है कि 90 लाख से ज्यादा लोग सबसे ज्यादा या हमेशा अकेलापन महसूस करते हैं।"

इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि, 'अकेलापन लोगों के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव डालती है। अकेलापन की समस्या लोगों को अंदर से खत्म कर देती है।

 

एक रिसर्च के मुताबिक अकेलेपन से सेहत को रोजाना 15 सिगरेट पीने जितना नुकसान होता है। ट्रेसी क्राउच को ब्रिटेन के लोनलीनेस मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया है। इस अनोखे मंत्रालय का प्रभार मिलने के बाद से ट्रेसी का ईमेल अकाउंट सवालों से भरा रहता है। उनका फोन लगातार बजता रहता है। तो वहीं अप्वाॅइंटमेंट्स की भी अच्छी खासी लंबी लिस्ट रहती है।

1 (1)

इतना ही नहीं, रिसर्च में ये भी सामने आया कि "यहां के लगभग 2 लाख बुजुर्गों ने करीब महिनेभर तक किसी दोस्त या करीबी से बात नहीं की है। बताया जा रहा है कि ऐसा परिस्थितियों का नतीजा कई गंभीर बीमारियों के रूप में सामने आता है।"

गौरतलब है कि ट्रेसी के लोनलीनेस मिनिस्ट्री संभालने के बाद से अलग-अलग देशों के मंत्री और प्रतिनिधि इस खास मंत्रालय के कामकाज को समझने और सीखने ब्रिटेन आ रहे हैं। इनमें नॉर्वे, डेनमार्क, कनाडा, यूएई, स्वीडन, आईसलैंड, न्यूजीलैंड, जापान और जर्मनी शामिल हैं।

_650x_2017091810432716


अमेरिकी विशेषज्ञों के मुताबिक, सबसे आम बीमारी हृदय रोग और डायबिटीज नहीं, बल्कि अकेलापन की है। हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी सिगना के सर्वे में पाया गया कि अकेलापन अमेरिका में महामारी के स्तर पर पहुंच गया है। 46% लोग बताते हैं कि वे हमेशा या कभी-कभी अकेलापन महसूस करते हैं। 18 से 22 साल के युवाओं में यह समस्या सबसे ज्यादा है। यही दिक्कत जापान में भी है। वहां अकेलेपन से बुजुर्गों की मौत हो रही है।


कमेंट करें