इंटरनेशनल

दूसरे कार्यकाल की शुरुआत करते ही जिनपिंग ने कहा- चीनी सेना युद्ध के लिए रहें तैयार

अमितेष युवराज सिंह | न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1479
| अक्टूबर 27 , 2017 , 19:59 IST

शी जिनपिंग दोबारा से चीन के राष्ट्रपति बन गए हैं। दोबारा राष्ट्रपति बनने के बाद शी जिनपिंग ने सेना के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में जिनपिंग ने कहा कि आर्मी का फोकस जंग जीतने पर होना चाहिए और हमें इस बात पर जोर देना चाहिए कि 2050 तक हम किस तरह वर्ल्ड क्लास मिलिट्री तैयार कर सकें। दोबारा राष्ट्रपति बनने के बाद जिनपिंग की ये पहली बैठक थी। बैठक में शी खुद भी मिलिट्री ड्रेस पहन कर आए थे।

दुनिया की सबसे बड़ी सेना को सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के प्रति ईमानदार रहने और युद्ध जीतने के तरीकों पर ध्यान केंद्रित करते हुए तैयारियां तेज करने को कहा है। 5 साल में एक बार होने वाली कम्युनिस्ट पार्टी की कांग्रेस में पार्टी, सेना और प्रेजिडेंसी ने शी के नेतृत्व को चुना है। 67 वर्षीय शी ने गुरुवार को अपने दूसरे टर्म की शुरुआत की।

Chinese-president-xi-jinping-7

इस सप्ताह हुई कांग्रेस में शी के सिद्धांतों को संविधान में शामिल करने को भी मंजूरी दी गयी। इस लिहाज से वह आधुनिक चीन के संस्थापक अध्यक्ष माओ त्से तुंग और उनके उत्तराधिकारी देंग शियाओपिंग के स्तर वाले नेता माने जा सकते हैं। चीन में दुनिया की सबसे बडी सेना को वहां के शक्ति-आधार का मुख्य स्रोत माना जाता है। चीन की सेना का संपूर्ण नियंत्रण रखने वाले सेंट्रल मिलिट्री कमीशन (सीएमसी) के प्रमुख शी इस शक्तिशाली आयोग के एकमात्र असैन्य नेता हैं।

2

शी ने बैठक में मिलिट्री में भी पार्टी के विचारों को आगे बढ़ाने का भी आदेश दिया। साथ ही कहा कि किसी भी सूरत में किसी भी तरह की सेना के साथ निपटने के लिए हर वक्त तैयार रहें। चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रेन गुओक्विंग ने बताया कि शी के प्लान को मिलिट्री में पूरी तरह लागू किया जाएगा। शी ने कहा, 'हमें 21 वीं सदी के मध्य तक सशस्त्र बलों को विश्व स्तरीय सेना में पूरी तरह से बदलने का प्रयास करना चाहिए।'


कमेंट करें