नेशनल

मदरसों को जारी हुआ छुट्टियों का नया कैलेंडर, अब हिंदुओं के त्योहारों पर भी होगा बंद

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
325
| जनवरी 3 , 2018 , 10:52 IST

अब तक हिंदुओं के त्योहारों से खुद को अलग रखने वाले मदरसों को अब लगभग सभी बड़े हिंदू पर्व पर छुट्टी करना अनिवार्य होगा। दिवाली, दशहरा, बुध पूर्णिमा और महावीर जयंती के साथ-साथ रामनवमी, रक्षा बंधन और क्रिसमस की भी छुट्टी अनिवार्य होगी।

यह आदेश मदरसा बोर्ड ने जारी किया है। मदरसा बोर्ड ने सालाना 92 की जगह छुट्टियों को घटाकर अब 86 दिन कर दिया है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक नये कैलेंडर में जहां 7 नयी छुट्टियां जोड़ी गईं है वहीं मदरसों के अधिकार में रहने वाली 10 छुट्टियां, जिन्हें ईद-उल-जुहा और मुहर्रम पर लिया जाता था, को घटा कर 4 कर दिया गया है। बता दें कि मदरसे अपनी ओर से मुस्लिम त्यौहारों जैसे मुहर्रम आदि पर 10 दिन का अवकाश घोषित कर सकते थे।

इस बदलाव के बारे में बोर्ड के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता का कहना है कि मदरसा बच्चों को महापुरुषों से परिचित कराने के लिए नई छुट्टियां शामिल की गई हैं।

मदरसा बोर्ड से तैतानिया, फौकानिया, आलिया और उच्च आलिया स्तर के मान्यता प्राप्त सभी मदरसे अब इन त्योहारों पर भी बंद रहेंगे। मान्यता प्राप्त सभी मदरसों को अवकाश के बारे में आदेश जारी किए गए हैं। सर्दियों की छुट्टियां 13 दिन की जगह 10 दिन होंगी।

इस्लामिक मदरसा मॉडर्नाइजेशन टीचर्स असोसिएशन के प्रमुख ऐजाज अहमद ने कहा, 'मदरसे धार्मिक संस्था हैं। अन्य त्योहारों पर छुट्टियां बढ़ाने से हमें कोई ऐतराज नहीं है, लेकिन हमारी 10 छुट्टियों को कम करना पूरी तरह गलत है।'


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें